जानिए - ऐसा क्या हुआ जो पाकिस्तान को

जानिए – ऐसा क्या हुआ जो पाकिस्तान को याद आ गए गांधीजी

0
294

देश विभाजन के बाद से ही पाकिस्तान कभी अपनी करतूतों से बाज़ नहीं आया | भारत ने पाकिस्तान की हर गलती अपना छोटा भाई समाज कर माफ़ की लेकिन पाकिस्तान है की भारत के किसी अहसान को मानने को तैयार ही नहीं |आज़ादी के बाद से ही पाकिस्तान ने कश्मीर विवाद को बढ़ावा दिया है और बात करने की जगह उसने हमेशा आतंक का रास्ता अपनाया है | पाकिस्तान ने हमेशा भारत में आतंक फैलाया और पकडे जाने पर भी खुद के गुनाह को कभी नहीं कबूला | भारत ने हर बार चुप्पी थमी और इंतज़ार किया की पाक कभी तो अपनी हरकतों से बाज़ आएगा , लेकिन वो पाकिस्तान ही क्या जो अपनी हरकतों से बाज़ आ जाये |

क्यों बौखलाया पाकिस्तान 

            जब पाकिस्तान ने दिखा ही दिया कि वो अपनी हरकतों से कभी बाज़ नहीं आएगा तो भारत ने भी उसे सीधा सन्देश देते हुए बताया की अब हम भी चुप बेठने वाले नहीं , और भारत ने पूरी प्लानिंग के साथ सर्जिकल स्ट्राइक कर दी और कई आतंकी कैंप को ढेर कर दिया जिस से की पाक बौखला उठा | उसके बाद से ही भारत ने पाकिस्तान की कई आतंकी कोशिशो को नाकाम किया |

फायरिंग में मारे गए पाक सैनिक

बताया जा रहा है की पाक सेना के जनरल राहिल शरीफ जिनके रिटायर होने के कुछ ही दिन बचे है , वो जाते जाते सर्जिकल स्ट्राइक का बदला भारत से लेना चाहते है और अपने पद को ३ साल के लिए एक्सटेंड करना चाहते है | इसी ख्वाइश के चलते पाक सेना और कुछ आतंकियों ने कश्मीर में राजौरी जीले के नौशेरा क्षेत्र में सीज फायर का उल्लंगन करते हुए भारत के जवानो पर एल.ओ.सी. के निकट फायरिंग कर दी , जिसमे ३ जवान शहीद हो गए और उन जवानों के शवो के साथ बर्बरता पूर्ण व्यवहार किया गया | ये घटना मंगलवार की है और भारत भी इस पर चुप नहीं बैठा और भारतीय सैनिको ने अगले ही दिन अपने साथियों का बदला लेने के लिए पुरे दिन पाक सेना पर गोलिया बरसाई और ३ सैनिको को मार गिराया जिसमे एक पाक सेना का कैप्टेन बताया जा रहा है | इस घटना से पाकिस्तान आर्मी बौखला उठी और उन्हें dgmo लेवल की मीटिंग बुलाने की जरुरत पद गयी |

जब पाकिस्तान को याद आये गांधीजी 

            भारत ने स्पष्ट किया की अब वो पाकिस्तान की किसी भी हरकत पर चुप नहीं बैठेगा और इस बिच पाकिस्तान की बौखलाहट साफ़ सामने आई | पाकिस्तान मीडिया के हवाले से पता चला है की जो पाकिस्तान हमेशा युद्ध करने की फिराक में था उसी देश के पढ़े लिखे लोगो का कहना है की हमें शांति बरतनी चाहिए और युद्ध को रोकना चाहिए | कुछ लोगो का यह भी कहना था की हम भारत के सामने बहुत कमजोर है और हम भारत का मुकाबला नहीं कर सकते | कुछ लोगो ने गांधीजी का हवाला देते हुए बोला की गांधीजी हमेशा अहिंसा को मानते थे और उनका कहना था की कोई एक गाल पर थप्पड़ मारे तो हमें दूसरा आगे करना चाहिए तो हमें गांधीजी के लिए शांति की और कदम बढ़ाना चाहिए | वाह रे वाह पाकिस्तान अब बात खुद पे आई तो गांधीजी याद आ गए |

यह बात तो भारत पाकिस्तान को कितने बरसो से समजाता आया है लेकिन पाकिस्तान की समज में कहा कुछ आने वाला | भारतीय सेना ने दिखा दिया की हम तो शांति ही चाहते है लेकिन अगर दुश्मन सामने से हमपे वार करेगा तो हम खामोश नहीं बैठेंगे |भारतीय सेना को मेरा सलाम |

JAI HIND       JAI BHARAT

 

Comments

comments

LEAVE A REPLY